मुंगेर जिले का स्वर्ग भीमबांध अभ्यारण्य

मुंगेर जिले का स्वर्ग भीमबांध अभ्यारण्य
मुंगेर जिले का स्वर्ग भीमबांध अभ्यारण्य, पर्यटन का केन्द्र बिंदु, आप यहाँ दिसंबर से फरवरी महीने तक घूमने के लिए आ सकते है, और यह यहाँ घूमने का सही समय है, जिसमे की आप गरम पानी में नहाने का आनंद ले सकते है.
तो यह आपके मनमस्तिष्क में आया होगा की हम यहाँ कैसे पहुचेगे, तो हम आपको निचे बता रहे है की आप यहाँ चार रास्ते से होकर पहुंच सकते है. लकिन आप रेलवे लाइन से सीधे यहाँ नहीं पहुंच सकते है. अगर आप रेल से आ रहे है तो आपको जमुई या बरियारपुर से सड़क मार्ग होकर यहाँ आना पड़ेगा।
कोलकाता से जमुई, या पटना से जमुई। या फिर भागलपुर से बरियारपुर या पटना से बरियारपुर. और सड़क मार्ग से होकर निचे दिए गए रास्ते से आ सकते है.
आप मुंगेर से बरियारपुर होकर नेशनल हाईवे ३३३ से खड़गपुर पहुंचकर जमुई रास्ते होते हुए यहाँ पहुंच सकते है.
या तारापुर से खड़गपुर पहुंचकर जमुई रास्ते होते हुए यहाँ पहुंच सकते है.
या जमुई जिला होते हुए यहाँ पहुंच सकते है.
या बेलहर संग्रामपुर होते हुए गंगटा मोड़ से दक्षिण जमुई की ओर चलकर आप भीमबांध अभ्यारण्य पहुंच सकते है.
घने जंगल में बसा यह एक बहुत ही सुंदर पर्यटन का केन्द् है, यहाँ पर पर्यटक मुख्यतः नजदीकी जिलों से आते है, लकिन कुछ समय से या कह सकते है जबसे यहाँ का विकास हुआ है तब से, यहाँ के नजदीकी जिले जैसे, मुंगेर, जमुई, बांका, भागलपुर, और पुरे बिहार और झारखण्ड से पर्यटक यहाँ आने लगे है. यह मुख्य रूप से गरम पानी का बहता कुंड के लिए प्रसिद्ध है. यहाँ आप मुख्य रूप से कुछ जंगली जानवर को भी देख सकते है. जैसे की काला भालू, चीतल, हिरन, चीता, नीलगाय, जंगली सूअर, मोर, जंगली मुर्गी इत्यादि।
आप अपने परिवार के साथ यहाँ घूमने आ सकते है. यहाँ का द्रिस्य बहुत ही मनोहारी है.
मुंगेर ट्रेवल्स आपकी सेवा के लिए सदा उपस्थित है।

Bhimbandh Wildlife Sanctuary in Munger district, nearest city Haveli Kharagpur.